सीएम योगी- गो आधारित प्राकृति खेती करें किसान


सीएम योगी- जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए किसान यूरिया और केमिकल खाद की बजाए गो आधारित प्राकृति खेती करें..

सीएम योगी- गो आधारित प्राकृति खेती करें किसान


 

चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान प्राकृति खेती को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि प्रदेश में यूरिया और केमिकल खाद की बजाए गो आधारित प्राकृति खेती करें। जिसमें गाय के गोबर और गाय के मूत्र का खेती में इस्तेमाल करें। पहले चरण में प्रदेश सरकार ने 1038 ग्राम पंचायत शामिल की हैं, जिसके तहत मास्टर ट्रेनर तैयार किए जाएंगे, जो गांवों में जाकर किसानों को गो आधारित खेती का प्रशिक्षण देंगे।

चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान सीएम ने जैविक खेती को बढ़ावा देने की बात कही। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सबसे पहले चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर उन्हें नमन किया। वहीं नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत आयोजित कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान अगर समृद्ध होगा तो देश खुद ही विकसित हो जाएगा।

इसके लिए जरूरी है कि किसान गो आधारित प्राकृतिक खेती करे ताकि धरती स्वस्थ और किसान समृद्ध रहे। उन्होनें कहा कि जिस तरह पंजाब और हरियाणा में किसानों को कई तरह की समस्याओं से गुजरना पड़ता है उसी तरह से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान फसल के साथ खेतों में यूरिया बिछा देते हैं। इससे फसल भले ही अच्छी हो जाती है लेकिन जमीन को भारी नुकसान होता है। इतना ही नहीं इससे लोगों के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है।