दो दशकों की मशहूर अदाकारा


मुमताज़ जिन्हें भला कौन नहीं जानता। मुमताज़ के ऊपर दर्जनों गाने फिल्माए गए जो सुपर हिट रहें। शाहरुख खान बचपन से ही उनके दीवाने रहें हैं..

  दो दशकों  की मशहूर अदाकारा


हिन्दी सिनेमा की पहली और असली ड्रीम गर्ल 

 

हिन्दी सिनेमा की पहली और असली ड्रीम गर्ल जो दो दशकों की मशहूर अदाकारा रहीं। वे हैं मुमताज़ जिन्हें भला कौन नहीं जानता। मुमताज़ के ऊपर दर्जनों गाने फिल्माएं गए जो सुपर हिट रहें। शाहरुख खान बचपन से ही उनके दीवाने रहें हैं। ‘छुप गए सारे नज़ारे’, ‘कोई शहरी बाबू’ और ‘गोरे रंग पे’ जैसे दर्जनों गाने और  बहुत सी फिल्में, जो लोगों के बीच बेहद सराहनीय रहीं। मुमताज़ का जन्म 31 जुलाई, 1947 को मुबंई में हुआ था। आज उनका 72वां जन्मदिन है। उन्होनें अपना फिल्मी सफर 11 साल की उम्र में ही शुरु कर दिया था। 16 की उम्र तक आते-आते मुमताज़ गिनती सुपरहिट कलाकारों में होने लगी और 22 साल की उम्र में वे एक सुपरस्टार बन गईं। मुमताज़ ने युगांडा के बिजनेसमैन मयूर माधवानी से 26 साल की उम्र में शादी कर ली। शादी के कुछ समय बाद ही 30 साल की उम्र में उन्होनें फिल्में करना छोड़ दिया। हालांकि मुमताज़ अभी लंदन में रहती हैं। उस समय मुमताज़ अकेली ऐसी एक्ट्रेस थीं जो एक-एक फिल्म के लिए 10-10 लाख रुपये तक लिया करतीं थीं, ये उन दिनों सबसे बड़ी रकम हुआ करती थी। दारा सिंह के साथ फीमेल लीड के तौर पर फिल्म ‘फौलाद’ में उन्हें कास्ट किया गया। ये उनका पहला सबसे बड़ा ब्रेक था। उन्होंने दारा सिंह के साथ करीब 16 फिल्में कीं थीं। एक इवेंट के दौरान शाहरुख ने खुद कबूला कि वे मुमताज़ के बहुत बड़े दीवाने हैं।