सिद्धी योग से मिलेगा विशेष लाभ


ज्योतिषियों के मुताबिक इस बार पूर्णिमा का शुभ संयोग होने के कारण बहने अपने भाई को रक्षाबंधन के दिन किसी भी समय रक्षासूत्र बांध सकती हैं। जानें शुभ संयोग..

सिद्धी योग से मिलेगा विशेष लाभ


इस साल रक्षाबंधन पर्व 15 अगस्त को है। इस बार स्वतंत्रता दिवस के साथ-साथ भाई-बहन का पर्व रक्षाबंधन भी मनाया जाएगा। ज्योतिषियों के मुताबिक इस बार पूर्णिमा का शुभ संयोग होने के कारण बहने अपने भाई को रक्षाबंधन के दिन किसी भी समय रक्षासूत्र बांध सकती हैं क्योंकि इस पर राखी पर भद्रा नहीं है। दरअसल भद्रा में राखी बांधना शुभ नहीं माना जाता। इस बार राखी पर कई विशेष संयोग हैं। रक्षाबंधन पर लगभग 13 घंटे तक शुभ मुर्हूत है।

इस बार सावन माह में 15 अगस्त के दिन चंद्र प्रधान श्रवण नक्षत्र में स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन का संयोग एक साथ बन रहा है। 15 अगस्त की सुबह से ही सिद्धि योग बनेगा जिसके चलते पर्व की महत्ता और अधिक बढ़ जाएगी। जबकि दोपहर 1 बजकर 43 मिनट से 4 बजकर 20 मिनट तक राखी बांधने से विशेष फल की प्राप्ति होगी।